• June 19, 2024

सामना में शिवसेना ने NCP पर कसा तंज, कहा-महाराष्ट्र का सीएम बनना ही अजित पवार का लक्ष्य

 सामना में शिवसेना ने NCP पर कसा तंज, कहा-महाराष्ट्र का सीएम बनना ही अजित पवार का लक्ष्य

महाराष्ट्र: महाराष्ट्र राजनीति में इस समय कुछ अच्छा नहीं चल रहा | लोकसभा चुनाव से पहले एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार के इस्तीफे के बाद से महाराष्ट्र की सियासत में कयासों का दौर जारी है | इसी बीच, उद्धव ठाकरे की शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ के जरिया कई दावे किये | सामना में NCP पर हमला करते हुए लिखा कि शरद पवार ने आनन- फानन में पार्टी से इस्तीफ़ा दिया | पत्र में शरद पवार के करीबियों ने बताय कि पवार महारष्ट्र दिवस पर ही इस्तीफा देने वाले थे लेकिन महाविकास आघाड़ी की सभा होने के कारण उन्होंने दो मई को घोषणा की। हम इस राय से सहमत नहीं हैं।

सामना में आगे लिखा है कि पवार द्वारा इस्तीफे का एलान करते ही कई नेताओं के आंसू छलक पड़े, रोने-धोने लगे। पवार के चरणों पर नतमस्तक हो गए, लेकिन इनमें से कइयों के एक पैर भाजपा में हैं और पार्टी को इस तरह से टूटते देखने की बजाय सम्मान से सेवानिवृत्ति ले ली जाए, ऐसा सेकुलर विचार पवार के मन में आया होगा तो उसमें गलत नहीं है। एनसीपी का एक गुट भाजपा की दहलीज पर पहुंच गया है और राज्य की राजनीति में कभी भी कोई भूकंप आ सकता है, ऐसे माहौल में पवार ने इस्तीफा देकर हलचल मचा दी।

निकाय चुनाव 2023: ड्यूटी के दौरान SDM की मौत, मैनपुरी में थे निर्वाचन अधिकारी

सामना’ में लिखा है कि शरद पवार द्वारा इस्तीफा देते ही उनको मनाने की कोशिश शुरू हो गई, यह स्पष्ट दिखाई दे रहा है। पवार इस्तीफा वापस लें, ऐसी मांग नेता कर रहे हैं, लेकिन अजीत पवार ने अलग भूमिका अपनाई। ‘पवार साहेब ने इस्तीफा दिया। वे वापस नहीं लेंगे। उनकी सहमति से दूसरा अध्यक्ष चुनेंगे’, ऐसा अजीत पवार कहते हैं। यह दूसरा अध्यक्ष कौन? पवार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं और पवार की पार्टी महाराष्ट्र केंद्रित है। इसलिए राष्ट्रीय अध्यक्ष पद संभालने योग्य नेता चुनते समय सावधानी बरतनी पड़ेगी।

Digiqole Ad

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *