• June 13, 2024

Holi को लेकर सीएम योगी ने जारी किये सख्त निर्देश, ”कहा – होली पर नहीं बजने चाहिए अश्लील गाने ”

 Holi को लेकर सीएम योगी ने जारी किये सख्त निर्देश, ”कहा – होली पर नहीं बजने चाहिए अश्लील गाने ”

लखनऊ : देश भर में होली की तैयारियां जोरो पर है। इसके साथ ही मार्च आने के साथ ही त्यौहार की भी भरमार शुरू हो जाती है। ऐसे में त्यौहार के दौरान होने वाले हुड़दंग के दौरान की जाने अश्लीलता , झगडे , लड़ाइयों से त्यौहार को बचाने और शांतिपूर्ण त्यौहार को बनाए रखने के लिए यूपी पुलिस अलर्ट मोड में आ गयी है। इसको लेकर निर्देश जारी करते हुए सीएम योगी ने कहा है कि, ”भविष्य में त्योहारों में धार्मिक परंपराओं और आस्था को पूरा सम्मान दिया जायेगा किंतु अराजकता स्वीकार नहीं की जाएगी। योगी ने अगले कुछ महीनों में आने वाले होलिकोत्सव, शब-ए-बारात, रमजान, नवरोज़, चैत्र नवरात्र, राम नवमी आदि महत्वपूर्ण पर्व-त्योहार के शांतिपूर्ण आयोजन के संबंध में शासन स्तर के वरिष्ठ अधिकारियों और जिला, रेंज, जोन व मंडल स्तर पर तैनात पुलिस व प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ ऑनलाइन बैठक करके आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

इसके आगे बोलते हुए सीएम योगी कहा है, ”अगले कुछ महीनों में त्योहारों के कारण अनेक स्थानों पर शोभायात्राओं का आयोजन होगा, मेले आदि लगेंगे लेकिन उल्लास और उमंग के बीच कानून-व्यवस्था के दृष्टिगत यह समय संवेदनशील है। हमें सतत सतर्क-सावधान रहना होगा। पिछले छह साल से प्रदेश में सभी धर्म-सम्प्रदाय के पर्व-त्योहारों के आयोजन शांति और सौहार्दपूर्ण माहौल में हुए हैं। इस क्रम को आगे भी बनाये रखना होगा। पर्व-त्योहार में शासन द्वारा सभी जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं। धार्मिक परंपरा/आस्था को सम्मान दें, किंतु अराजकता स्वीकार नहीं की जाएगी। आयोजकों को अनुमति देने से पूर्व उनसे शांति और सौहार्द सुनिश्चित करने के संबंध में शपथ पत्र लिया जाए”

ये भी पढ़े :- आज का इतिहास : आज ही के दिन मुरलीधरन ने लिया था 1000वां विकेट, पढ़े आज के दिन जुड़ी महत्वपूर्ण घटनाएं

यूपी में अश्लील और फूहड़ गानों पर लगी रोक

मुख्यमंत्री ने कहा कि, ”शरारतपूर्ण बयान जारी करने और माहौल खराब करने व ऐसा करने का प्रयास करने वालों को कत्तई बर्दाश्त ना किया जाए और उनसे कड़ाई से पेश आएं। होली के मौके पर कतिपय शरारती तत्व दूसरे सम्प्रदाय के लोगों को अनावश्यक रूप से उत्तेजित करने की कुत्सित कोशिश कर सकते हैं, ऐसे मामलों पर नजर रखें। संवेदनशील क्षेत्रों को चिन्हित करते हुए अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की जाए। शोभायात्रा/जुलूस में ऐसी कोई भी गतिविधि न हो जो दूसरे सम्प्रदाय के लोगों को उत्तेजित करे। अश्लील/फूहड़ गीत कतई न बजें. धर्मस्थलों पर रंग न डाले जाएं। छोटी सी अफवाह माहौल को बिगाड़ सकती है ऐसे में पुलिस प्रशासन को अलर्ट रहना होगा।”

Digiqole Ad

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *