• June 23, 2024

Eid-Ul-Fitr 2023: भारत में ईद कल, जानें इस त्योहार का महत्व और इतिहास…

 Eid-Ul-Fitr 2023: भारत में ईद कल, जानें इस त्योहार का महत्व और इतिहास…

Eid-Ul-Fitr 2023: रमजान के पवित्र महीने के समाप्ति के अवसर पर आखिर में ईद-उल-फितर का त्योहार मनाया जाता है। दुनियाभर में मौजूद मुस्लिम समुदाय के लोग इस त्यौहार को बड़े धूम-धाम और हर्षोउल्लास के साथ मनाते हैं। ईद-उल-फितर को मीठी ईद भी कहा जाता है, यह त्यौहार रमजान के पवित्र महीने के ख़त्म होने की पहचान है |

गौरतला है कि रमजान के पूरे महीने मुस्लिम सुमदाय के लोग रोजा रखते हैं और अल्लाह की इबादत करते हैं। बता दें कि इस अवसर पर लोग नए कपड़े पहनते हैं पकवान बनाते हैं और अपने करीबियों के साथ इस दिन को और खास बनाते हैं।

आपको बता दें कि यह त्यौहार शव्वाल के पहले दिन मनाया जाता है – वह महीना जो हिजरी कैलेंडर में रमजान के बाद आता है। इसके अलावा, क्योंकि इस्लामिक कैलेंडर चांद पर निर्भर करता है, इसलिए हर साल तारीख भी चांद के अनुसार अलग होती है।

Civil Service Day: PM मोदी ने अधिकारियों को दिया पंच प्रण का मंत्र, कहा- आपके इरादे आसमान से ऊँचे

ईद-उल-फितर शव्वाल महीने की शुरुआत में आता है, इसलिए अलग-अलग देशों में इसे अलग-अलग दिन मनाया जाता है। इस्लामिक कैलेंडर में हर महीने में 29 या 30 दिन होते हैं। ईद-उल-फितर के बाद मुस्लमान समुदाय ईद-उल-जुहा भी मनाता है।

ईद-उल-फ़ितर कब है?

इस साल ईद उल फ़ितर का त्योहार सउदी अरब में 21 अप्रैल को मनाया जा रहा है, जिसका मतलब देश में इसे 22 अप्रैल को मनाया जाएगा।

ईद-उल-फ़ितर का इतिहास और महत्व….

पहली ईद उल-फ़ितर पैगम्बर मुहम्मद ने सन 624 ईसवी में जंग-ए-बदर के बाद मनाई थी। ईद उल फ़ितर के अवसर पर पूरे महीने अल्लाह की इबादत की जाती है, रोज़ा रखा जाता है और कुरान पढ़ा जाता है। जिसके बाद मजदूरी मिलने का दिन ही ईद का दिन कहलाता है।

Digiqole Ad

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *