• June 19, 2024

60वें बच्चे का पिता बना यह पाकिस्तानी, 100 का है टारगेट; कहा- बेगम चाहती हैं और बच्चे

पाकिस्तान इन दिनों भुखमरी जैसे संकटों से परेशान है। दूसरी तरफ पाकिस्तान के एक शख्स ने दावा किया है कि उसके 60 बच्चे हैं। क्वेटा में रहने वाले सरदार हाजी जान मोहम्मद का कहना है कि रविवार को उनके घर फिर किलकारी गूंजी है। उनके घर में 60वें बच्चे का जन्म हुआ है। जान मोहम्मद की तीन पत्नियां हैं लेकिन वह चौथी शादी भी करना चाहते हैं। वह चाहते हैं कि उनके 100 बच्चे हों। बता दें कि क्वेटा शहर बलूचिस्तान प्रांत की राजधानी है।

Pakistan: पाकिस्तान के एक परिवार में 60वें बच्चे ने लिया जन्म, पढ़ें हाजी  जान के घर की दिलचस्प कहानी

बीबीसी को दिए इंटरव्यू में जान मोहम्मद ने दावा किया कि उनके पांच बच्चे अल्लाह को प्यारे हो गए हैं जबकि 55 जिंदा हैं। उन्होंने कहा कि अगर अल्लाह की मर्जी है तो अभी और बच्चे पैदा होंगे। उनकी मौजूदा तीन पत्नियां और बच्चे एक ही घर में रहते हैं। जान मोहम्मद पेशे से कंपाउंडर हैं और अपना एक क्लीनिक भी चलाते हैं। फिलहाल जान मोहम्मद चौथी शादी करने के लिए लड़की तलाश रहे हैं।

बेगम चाहती हैं औऱ बच्चे
जान मोहम्मद ने बताया कि उनका 60वां बच्चा एक लड़का है। उन्होंने इस बच्चे का नाम खुशहाल खान रखा है। जब उनसे पूछा गया कि आपको सभी  बच्चों के नाम याद रहते हैं तो मोहम्मद ने कहा, क्यों नहीं? जान मोहम्मद ने कहा कि उनकी बेगमें अभी और बच्चे पैदा करना चाहती हैं। वह चाहते हैं कि घर में बेटियां ज्यादा हों। बता दें कि जान मोहम्मद के बच्चों की उम्र 18 साल से ऊपर भी है। हालांकि अभी किसी की भी शादी नहीं हुई है।

pakistani man haji jan mohammad father of 60 children said wife wants more  - International news in Hindi - 60वें बच्चे का पिता बना यह पाकिस्तानी, 100  का है टारगेट; कहा- बेगम

पाकिस्तान की माली हालत किसी से छिपी नहीं है। ऐसे में जान मोहम्मद भी इतने बड़े परिवार के खर्च से परेशान हैं। उन्होंने कहा कि महंगाई के चलते परिवार की देखभाल में मुश्किल आ रही है। हालांकि वह अपनी ख्वाहिश पूरा करना चाहते हैं। वह चाहते हैं कि कम से कम उनके 100 बच्चे हों। बता दें कि पाकिस्तान उन 8 देशों में शुमार है जो कि 2050 तक दुनिया की आधी आबादी के लिए जिम्मेदार होगा। यूएने के आंकड़ों के मुताबिक 1960 से पूरी दुनिया में जनसंख्या वृद्धि की दर कम हुई है। 2020 में यह 1 फीसदी से भी कम हो गई लेकिन पाकिस्तान में अब भी 1,9 फीसदी है।

Digiqole Ad

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *