• June 23, 2024

साल का पहला सूर्य ग्रहण कल,100 साल बाद बन रहा संयोग

 साल का पहला सूर्य ग्रहण कल,100 साल बाद बन रहा संयोग

Surya Grahan 2023:इस साल का पहला सूर्य ग्रहण कल यानि 20 अप्रैल को लगने जा रहा है | सूर्य ग्रहण को लेकर कई तरह की चीजें मन में चलती रहती है | इसी के चलते ज्योतिष शास्त्र में सूर्य ग्रहण का विशेष महत्व माना जाता है| जब सूर्य और पृथ्वी के बीच चंद्रमा आ जाता है तो इस स्थिति को सूर्य ग्रहण कहा जाता है | ऐसी स्थिति में सूर्य का प्रकाश पृथ्वी तक नहीं पहुंच पाता है | विज्ञान में सूर्य ग्रहण को भले खगोलीय घटना माना जाता है लेकिन ज्योतिष शास्त्र में इसे बहुत अशुभ माना जाता है|

सूर्य ग्रहण का समय

आपको बता दें कि कल सूर्य ग्रहण सुबह 07 बजकर 05 मिनट से लगना शुरू होगा और दोपहर 12 बजकर 29 मिनट पर समाप्त होगा | आपको बता दें कि इस बार ग्रहण की अवधि 5 घंटे 24 मिनट रहने वाली है | खास बात यह है कि इस बार यह ग्रहण वैशाख मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या को अश्विनी नक्षत्र में मेष राशि में लगेगा | इस बार का सूर्य ग्रहण इसलिए भी महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि इस दिन वैशाख माह की अमावस्या भी है | इस दिन दान-पुण्य जैसे काम करना बेहद शुभ माना जाता है |

सूर्य ग्रहण कहां-कहां दिखाई देगा?

20 अप्रैल को लगने वाला सूर्य ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देगा | ये ग्रहण कंबोडिया, चीन, अमेरिका, माइक्रोनेशिया, मलेशिया, फिजी, जापान, समोआ, सोलोमन, बरूनी, सिंगापुर, थाईलैंड, अंटार्कटिका, ऑस्ट्रेलिया, वियतनाम, ताइवान, पापुआ न्यू गिनी, इंडोनेशिया, फिलीपींस, दक्षिण हिंद महासागर, दक्षिण प्रशांत सागर, और न्यूजीलैंड में देखा जा सकेगा | ग्रहण के दौरान सूर्य ग्रसित हो जाता है जिसका प्रभाव हर किसी पर पड़ता है |

सूतक काल नहीं होगा मान्य …

आपको बता दें कि किसी भी ग्रहण के पड़ने से पहले सूतक काल लग जाता है लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा | ज्योतिष शास्त्र में सूतक काल को अशुभ अवधि माना जाता है| इस दौरान कोई भी शुभ कार्य नहीं किए जाते हैं | हालांकि यह सूतक काल तभी मान्य होता है जब ग्रहण दिखाई देता है | भारत में यह ग्रहण नहीं दिखेगा इसलिए इसका सूतक काल यहाँ नहीं माना जायेगा |

Digiqole Ad

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *