• July 12, 2024

योगाभ्यास तनाव से मुक्ति पाने में अत्यंत मददगार : प्रो. नरसीराम बिश्नोई

 योगाभ्यास तनाव से मुक्ति पाने में अत्यंत मददगार : प्रो. नरसीराम बिश्नोई

हिसार, 22 जून। गुरू जम्भेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय में पंचनद शोध संस्थान, अध्ययन केंद्र की ओर से अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में करो योग रहो निरोग विषय पर गोष्ठी का आयोजन किया गया। गोष्ठी में भारत स्वाभिमान ट्रस्ट, हरियाणा, पतंजलि योगपीठ, हरिद्वार से राज्य प्रभारी ईश कुमार आर्य प्रस्तोता के तौर पर उपस्थित रहे जबकि कार्यक्रम की अध्यक्षता गुरू जम्भेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. नरसी राम बिश्नोई ने की।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. नरसी राम बिश्नोई ने कहा कि योगाभ्यास तनाव से मुक्ति पाने और मन को प्रसन्न व शांत रखने में अत्यंत मददगार है। रोग से निरोग होने का मार्ग योग है। योग अभ्यास का उद्देश्य सभी प्रकार के दुखों से निवृत्ति प्राप्त करना है, जिससे प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में पूर्ण स्वतंत्रता तथा स्वास्थ्य प्रसन्नता एवं सामंजस्य का अनुभव कर सके। योग मन को शांति प्रदान करता है जो न केवल शारीरिक स्वास्थ्य बल्कि मानसिक, आध्यात्मिक व सामाजिक स्वास्थ्य भी प्रदान करता है।

प्रस्तोता ईश कुमार आर्य ने आठ प्राणायाम के बारे में विस्तार से बताया और कहा कि हमें योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाना चाहिए ताकि हम स्वस्थ रह सकें। योग स्वस्थ जीवन की कला व विज्ञान है। योग भारत के ऋषि- मुनियों द्वारा विश्व को दिया गया एक अनमोल उपहार है। पंचनद शोध संस्थान, अध्ययन केंद्र, हिसार के अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह ने कहा कि योग शब्द की उत्पत्ति संस्कृत भाषा के ‘यूज’ नामक शब्द से हुई है, जिसका अर्थ है-जुडऩा या मिलना। शरीर, मन, बुद्धि व आत्मा का एक साथ मिलना ही योग कहलाता है। योग से न केवल शारीरिक व मानसिक विकास होता है अपितु, अध्यात्मिक रूप से भी विकास होकर व्यक्ति का सर्वांगिण विकास होता है। इसलिए हर व्यक्ति को एकाग्रता व निरंतरता के साथ अपने दैनिक-दिनचर्या में योग को अपनाना चाहिए।

गोष्ठी में आए हुए सभी महानुभवों का पंचनद शोध संस्थान के उपाध्यक्ष प्रो. नीरज कुमार ने धन्यवाद किया एवं मंच का संचालन सचिव, डॉ. मोहित कुमार ने किया। इस अवसर पर पंचनद शोध संस्थान, अध्ययन केन्द्र, हिसार के सलाहकार ज्ञान चंद बंसल सहित अनेक पदाधिकारी एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित रहें।

Digiqole Ad

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *