• June 19, 2024

ईरान के मंत्री का बड़ा खुलासा, पढ़ाई से रोकने के लिए लड़कियों के साथ हो रही ये वैहशियत, सुनकर काँप जाएंगी रूह

 ईरान के मंत्री का बड़ा खुलासा, पढ़ाई से रोकने के लिए लड़कियों के साथ हो रही ये वैहशियत, सुनकर काँप जाएंगी रूह

इंटरनेशनल डेस्क : ईरान ने उप स्वास्थ्य मंत्री यूनुस पनाही ने बड़ा खुलासा किया है। जिसमें उन्होंने बताया है कि, देश में लड़कियों को शिक्षा पाने से रोकने के लिए कई तरह से वैहशियत को अंजाम दिया जा रहा है। ईरान के मंत्री ने इस बात का सनसनी खेज खुलासा करते हुए कहा है कि, “कुछ लोगों” ने लड़कियों की शिक्षा को बंद करने के मकसद से पवित्र शहर क़ोम में स्कूली छात्राओं को ज़हर दिया था। यही वजह है कि पिछले साल नवंबर के आखिरी सप्ताह के बाद तेहरान में सैंकड़ों स्कूली बच्चियों को अस्पताल में भर्ती करना पड़ा था।

उप स्वास्थ्य मंत्री यूनुस पनाही ने किया ये दावा

बीते रविवार को ईरान के उप स्वास्थ्य मंत्री यूनुस पनाही ने इस बात की पुष्टि की कि, स्कूली छात्राओं को जहर जानबूझकर दिया गया था। आईआरएनए राज्य समाचार एजेंसी ने पनाही के हवाले से कहा, “कोम के स्कूलों में कई छात्राओं को जहर दिए जाने के बाद, यह पाया गया कि कुछ लोग चाहते थे कि सभी स्कूलों, खासकर लड़कियों के स्कूलों को बंद कर दिया जाए।”

ये भी पढ़े :- Manish Sisodia Arrested : गिरफ्तारी के बाद सीबीआई हेडक्वार्टर ऐसी बीती डिप्टी सीएम की रात, आज होंगे कोर्ट में पेश, जानिए कैसी हुई गिरफ्तारी ?

हिजाब को लेकर ईरानी लड़की की हुई थी हत्या

हालांकि इस बात को लेकर कोई विस्तृत जानकारी प्राप्त नहीं हुई है। इस मामले किसी भी तरह की कोई गिरफ्तारी हुई है या नहीं ? आईआरएनए ने बताया, कि 14 फरवरी को, बीमार छात्राओं के माता-पिता ने “स्पष्टीकरण की मांग” के लिए शहर के गवर्नर के बाहर धरना दिया था। जवाब में सरकार के प्रवक्ता अली बहादोरी जहरोमी ने कहा कि खुफिया और शिक्षा मंत्रालय विषाक्तता के कारणों का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं।गौरतलब है कि ईरान में हिजाब पहनने का विरोध करने पर 22 वर्षीय ईरानी लड़की कुर्द महसा अमिनी की पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी। जिसके बाद ईरान में काफी हंगामा हुआ।

Digiqole Ad

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *